राष्ट्र को समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए आदर्शवाद, नैतिकता, मानवता, परमार्थ, देश भक्ति एवं समाज निष्ठा की भावना की जागृति नितान्त आवश्यक है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

राष्ट्र को समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए आदर्शवाद, नैतिकता, मानवता, परमार्थ, देश भक्ति एवं समाज निष्ठा की भावना की जागृति नितान्त आवश्यक है। : Rashtra ko samriddh banane ke liye adarshvaad, naitikta, manavta, parmarth deshbhakti evam samaj nishtha i bhavna jagrit hona nitaant aavshyak hai - प्रज्ञा सुभाषितराष्ट्र को समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए आदर्शवाद, नैतिकता, मानवता, परमार्थ, देश भक्ति एवं समाज निष्ठा की भावना की जागृति नितान्त आवश्यक है। : Rashtra ko samriddh banane ke liye adarshvaad, naitikta, manavta, parmarth deshbhakti evam samaj nishtha i bhavna jagrit hona nitaant aavshyak hai - प्रज्ञा सुभाषित

rashtra ko samriddh banane ke liye adarshvaad, naitikta, manavta, parmarth deshbhakti evam samaj nishtha i bhavna jagrit hona nitaant aavshyak hai | राष्ट्र को समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए आदर्शवाद, नैतिकता, मानवता, परमार्थ, देश भक्ति एवं समाज निष्ठा की भावना की जागृति नितान्त आवश्यक है।