हर व्यक्ति में कुछ-न-कुछ विशेष गुण और प्रतिभा होती है इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने अंदर मौजूद गुणों और प्रतिभा का पहचानना चाहिए - har vyakti me kuchh na kuchh vishesh guna aur pratibha hoti hai, islie pratyek vyakti ko apne andar maujood pratibha ko pehchanna chahiye. : रतन टाटा

हर व्यक्ति में कुछ-न-कुछ विशेष गुण और प्रतिभा होती है इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने अंदर मौजूद गुणों और प्रतिभा का पहचानना चाहिए। : Har vyakti me kuchh na kuchh vishesh guna aur pratibha hoti hai, islie pratyek vyakti ko apne andar maujood pratibha ko pehchanna chahiye. - रतन टाटा