स्वतंत्र भारत में कोई भी भूख से नहीं मरेगा। अनाज निर्यात नहीं किया जायेगा। कपड़ों का आयात नहीं किया जाएगा। इसके नेता ना विदेशी भाषा का प्रयोग करेंगे ना किसी दूरस्थ स्थान, समुद्र स्तर से 7000 फुट ऊपर से शासन करेंगे। इसके सैन्य खर्च भारी नहीं होंगे, इसकी सेना अपने ही लोगों या किसी और की भूमि को अधीन नहीं करेगी। इसके सबसे अच्छे वेतन पाने वाले अधिकारी इसके सबसे कम वेतन पाने वाले सेवकों से बहुत ज्यादा नहीं कमाएंगे और यहाँ न्याय पाना ना खर्चीला होगा, ना कठिन होगा - svatantr bhaarat mein koee bhee bhookh se nahin marega. anaaj disk nahin kiya jaega. kapadon ka aayaat nahin kiya jaega. isake neta na videshee bhaasha ka prayog karenge na kisee doorasth sthaan, samudr tal se 7000 phut oopar se shaasan karenge. isake sainy kharch bhaaree nahin honge, isakee sena apane hee logon ya kisee aur kee bhoomi ko adheen nahin karegee. isake sabase achchhe vetan paane vaale adhikaaree isake sabase kam vetan paane vaale sevakon se bahut jyaada nahin kamaenge aur yahaan nyaay paana na kharcheela hoga, na kathin hoga. : सरदार वल्लभ भाई पटेल

स्वतंत्र भारत में कोई भी भूख से नहीं मरेगा। अनाज निर्यात नहीं किया जायेगा। कपड़ों का आयात नहीं किया जाएगा। इसके नेता ना विदेशी भाषा का प्रयोग करेंगे ना किसी दूरस्थ स्थान, समुद्र स्तर से 7000 फुट ऊपर से शासन करेंगे। इसके सैन्य खर्च भारी नहीं होंगे, इसकी सेना अपने ही लोगों या किसी और की भूमि को अधीन नहीं करेगी। इसके सबसे अच्छे वेतन पाने वाले अधिकारी इसके सबसे कम वेतन पाने वाले सेवकों से बहुत ज्यादा नहीं कमाएंगे और यहाँ न्याय पाना ना खर्चीला होगा, ना कठिन होगा। : Svatantr bhaarat mein koee bhee bhookh se nahin marega. anaaj disk nahin kiya jaega. kapadon ka aayaat nahin kiya jaega. isake neta na videshee bhaasha ka prayog karenge na kisee doorasth sthaan, samudr tal se 7000 phut oopar se shaasan karenge. isake sainy kharch bhaaree nahin honge, isakee sena apane hee logon ya kisee aur kee bhoomi ko adheen nahin karegee. isake sabase achchhe vetan paane vaale adhikaaree isake sabase kam vetan paane vaale sevakon se bahut jyaada nahin kamaenge aur yahaan nyaay paana na kharcheela hoga, na kathin hoga. - सरदार वल्लभ भाई पटेल

आप हर अनुभव से ताकत, साहस और आत्मविश्वास हासिल करते हैं, जिसमें आप वास्तव में डर पर विजय प्राप्त कर लेते हैं - aap har anubhav se taakat, sahas aur aatmavishvas hasil karte hain, jisme aap vastav mein dar par vijay prapt kar lete hain. : एलेनोर रुज़वेल्ट

आप हर अनुभव से ताकत, साहस और आत्मविश्वास हासिल करते हैं, जिसमें आप वास्तव में डर पर विजय प्राप्त कर लेते हैं। : Aap har anubhav se taakat, sahas aur aatmavishvas hasil karte hain, jisme aap vastav mein dar par vijay prapt kar lete hain. - एलेनोर रुज़वेल्ट

मेरी प्रशंसा और जय-जय कार करने से अच्छा है, मेरे दिखाये गए मार्ग पर चलो - meree prashansa aur jay-jay kaar karane se achchha hai, mere dikhaaye gae maarg par chalo. : डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकर

मेरी प्रशंसा और जय-जय कार करने से अच्छा है, मेरे दिखाये गए मार्ग पर चलो। : Meree prashansa aur jay-jay kaar karane se achchha hai, mere dikhaaye gae maarg par chalo. - डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकर

जो धर्म जन्म से एक को श्रेष्ठ और दूसरे को नीच बताये वह धर्म नहीं, गुलाम बनाए रखने का षड़यंत्र है - jo dharm jayamm se ek ko shrey aur doosare ko neech bata vah dharm nahin, gulaam banae rakhane ka shadayantr hai. : डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकर

जो धर्म जन्म से एक को श्रेष्ठ और दूसरे को नीच बताये वह धर्म नहीं, गुलाम बनाए रखने का षड़यंत्र है। : Jo dharm jayamm se ek ko shrey aur doosare ko neech bata vah dharm nahin, gulaam banae rakhane ka shadayantr hai. - डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकर

सेवा करने वाले मनुष्य को विन्रमता सीखनी चाहिए, वर्दी पहन कर अभिमान नहीं, विनम्रता आनी चाहिए - seva karane vaale manushy ko vinramata seekhanee chaahie, vardee pahan kar abhimaan nahin, vinamrata se aanee chaahie. : सरदार वल्लभ भाई पटेल

सेवा करने वाले मनुष्य को विन्रमता सीखनी चाहिए, वर्दी पहन कर अभिमान नहीं, विनम्रता आनी चाहिए। : Seva karane vaale manushy ko vinramata seekhanee chaahie, vardee pahan kar abhimaan nahin, vinamrata se aanee chaahie. - सरदार वल्लभ भाई पटेल

यह भारत के प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य हैं कि वह अनुभव करे कि उसका देश स्वतन्त्र हैं और देश की स्वतंत्रता की रक्षा करना उसका कर्त्तव्य हैं - yah bhaarat ke pratyek naagarik ka karm hai ki vah anubhav kare ki usaka desh svatantr hain aur desh kee svatantrata kee raksha karana usaka karttavy hai. : सरदार वल्लभ भाई पटेल

यह भारत के प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य हैं कि वह अनुभव करे कि उसका देश स्वतन्त्र हैं और देश की स्वतंत्रता की रक्षा करना उसका कर्त्तव्य हैं। : Yah bhaarat ke pratyek naagarik ka karm hai ki vah anubhav kare ki usaka desh svatantr hain aur desh kee svatantrata kee raksha karana usaka karttavy hai. - सरदार वल्लभ भाई पटेल