वह व्यक्ति ग़रीब नहीं है जिस के पास थोड़ा बहुत ही है। ग़रीब तो वह है जो ज़्यादा के लिए मरा जा रहा है - vah vyakti gareeb nahi jiske paas thoa bahut hai. gareeb to wah hai jo jyada ke liye maraa jaa raha hai : लूशियस एनेयस सेनेका

वह व्यक्ति ग़रीब नहीं है जिस के पास थोड़ा बहुत ही है। ग़रीब तो वह है जो ज़्यादा के लिए मरा जा रहा है। : Vah vyakti gareeb nahi jiske paas thoa bahut  hai. gareeb to wah hai jo jyada ke liye maraa jaa raha hai - लूशियस एनेयस सेनेका

ऐसा नहीं है कि कार्य कठिन हैं इसलिए हमें हिम्मत नहीं करनी चाहिए, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम हिम्मत नहीं करते हैं इसलिए कार्य कठिन हो जाते हैं - aisa nahi hai ki karya kathin hain isliye humein himmat nahi karni chahie, aisa isliye hota hai kyonki hum himmat nahi karte. isliye karya kathin ho jaate hain. : लूशियस एनेयस सेनेका

ऐसा नहीं है कि कार्य कठिन हैं इसलिए हमें हिम्मत नहीं करनी चाहिए, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम हिम्मत नहीं करते हैं इसलिए कार्य कठिन हो जाते हैं। : Aisa nahi hai ki karya kathin hain isliye humein himmat nahi karni chahie, aisa isliye hota hai kyonki hum himmat  nahi karte. isliye karya kathin ho jaate hain. - लूशियस एनेयस सेनेका

अगर एक व्यक्ति को मालूम ही नहीं कि उसे किस बंदरगाह की ओर जाना है, तो हवा की हर दिशा उसे अपने विरुद्ध ही प्रतीत होगी - agar ek vyakti ko maloom nahi ki use kis bandargaah ki or jana hai to hawa ki har disha use apne viruddh hi prateet hoti hai. : लूशियस एनेयस सेनेका

अगर एक व्यक्ति को मालूम ही नहीं कि उसे किस बंदरगाह की ओर जाना है, तो हवा की हर दिशा उसे अपने विरुद्ध ही प्रतीत होगी। : Agar ek vyakti ko maloom nahi ki use kis bandargaah ki or jana hai to hawa ki har disha use apne viruddh hi prateet hoti hai. - लूशियस एनेयस सेनेका