अतीत पे धयान मत दो, भविष्य के बारे में मत सोचो, अपने मन को वर्तमान क्षण पे केन्द्रित करो - ateet pe dhyan mat do, bhavishya ke baare me mat socho aona saara dhyan vartman par kendrit karo. : गौतम बुद्ध

अतीत पे धयान मत दो, भविष्य के बारे में मत सोचो, अपने मन को वर्तमान क्षण पे केन्द्रित करो। : Ateet pe dhyan mat do, bhavishya ke baare me mat socho aona saara dhyan vartman par kendrit karo. - गौतम बुद्ध

सत्य के मार्ग पर चलने हेतु बुरे का त्याग अवश्यक है, चरित्र का सुधार आवश्यक है - saty ke maarg par chalane ke lie bure ka tyaag avagat hai, charitr ka sudhaar aavashyak hai. : सरदार वल्लभ भाई पटेल

सत्य के मार्ग पर चलने हेतु बुरे का त्याग अवश्यक है, चरित्र का सुधार आवश्यक है। : Saty ke maarg par chalane ke lie bure ka tyaag avagat hai, charitr ka sudhaar aavashyak hai. - सरदार वल्लभ भाई पटेल

जीतने की संकल्प शक्ति, सफल होने की इच्छा और अपने अंदर मौजूद क्षमताओं के उच्चतम् स्तर तक पहुंचने की तीव्र अभिलाषा, ये ऐसी चाबियां हैं जो व्यक्तिगत उत्कृष्टता के बंद दरवाजे खोल देती है - jeetne ki sankalp shakti, safal hone ki ichha aur apne andar mauzood kshamtao ke uchchatam star tak pahunchne kee teevra abhilasha, ye esi chaabiyan hain ji vyakti ki utkrishtata ke band darwaje khol deti hain. : कन्फ्युशियस

जीतने की संकल्प शक्ति, सफल होने की इच्छा और अपने अंदर मौजूद क्षमताओं के उच्चतम् स्तर तक पहुंचने की तीव्र अभिलाषा, ये ऐसी चाबियां हैं जो व्यक्तिगत उत्कृष्टता के बंद दरवाजे खोल देती है। : Jeetne ki sankalp shakti, safal hone ki ichha aur apne andar mauzood kshamtao ke uchchatam star tak pahunchne kee teevra abhilasha, ye esi chaabiyan hain ji vyakti ki utkrishtata ke band darwaje khol deti hain. - कन्फ्युशियस