अपना जीवन जीने के केवल दो ही तरीके हैं. पहला यह मानना कि कोई चमत्कार नहीं होता है, दूसरा है कि हर वस्तु एक चमत्कार है - apna jeevan jeene ke keval do tareeke hain, pahla ki yah maaanna ki koi chmatkar nahi hota, doosra ki har vastu chamatkar hai. : अल्बर्ट आइन्स्टाइन

अपना जीवन जीने के केवल दो ही तरीके हैं. पहला यह मानना कि कोई चमत्कार नहीं होता है, दूसरा है कि हर वस्तु एक चमत्कार है। : Apna jeevan jeene ke keval do tareeke hain, pahla ki yah maaanna ki koi chmatkar nahi hota, doosra ki har vastu chamatkar hai. - अल्बर्ट आइन्स्टाइन

ऐसा नहीं है कि मैं कोई अति प्रतिभाशाली व्यक्ति हूँ; लेकिन मैं निश्चित रूप से अधिक जिज्ञासु हूँ और किसी समस्या को सुलझाने में अधिक देर तक लगा रहता हूँ - aisa nahi hai ki main koi ati-pratibhashali vyakti hoo, lekin main nishchit roop se adhik jigyaasu hu aur samasya ko suljhane ke tareeke khojta hu. : अल्बर्ट आइन्स्टाइन

ऐसा नहीं है कि मैं कोई अति प्रतिभाशाली व्यक्ति हूँ; लेकिन मैं निश्चित रूप से अधिक जिज्ञासु हूँ और किसी समस्या को सुलझाने में अधिक देर तक लगा रहता हूँ। : Aisa nahi hai ki main koi ati-pratibhashali vyakti hoo, lekin main nishchit roop se adhik jigyaasu hu aur samasya ko suljhane ke tareeke khojta hu. - अल्बर्ट आइन्स्टाइन