राष्ट्र निर्माण जागरूक बुद्धिजीवियों से ही संभव है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

राष्ट्र निर्माण जागरूक बुद्धिजीवियों से ही संभव है। : Rashra nirmaan jaagruk buddhijeeviyon se hi sambhav hai - प्रज्ञा सुभाषितराष्ट्र निर्माण जागरूक बुद्धिजीवियों से ही संभव है। : Rashra nirmaan jaagruk buddhijeeviyon se hi sambhav hai - प्रज्ञा सुभाषित

rashra nirmaan jaagruk buddhijeeviyon se hi sambhav hai | राष्ट्र निर्माण जागरूक बुद्धिजीवियों से ही संभव है।