हर वक्त, हर स्थिति मेंं मुस्कराते रहिये, निर्भय रहिये, कर्तव्य करते रहिये और प्रसन्न रहिये।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

हर वक्त, हर स्थिति मेंं मुस्कराते रहिये, निर्भय रहिये, कर्तव्य करते रहिये और प्रसन्न रहिये। : Har waqt har sthiti me muskurate rahiye, nirbhay rahiye, kartavya karte rahiye aur prasanna rahiye. - प्रज्ञा सुभाषितहर वक्त, हर स्थिति मेंं मुस्कराते रहिये, निर्भय रहिये, कर्तव्य करते रहिये और प्रसन्न रहिये। : Har waqt har sthiti me muskurate rahiye, nirbhay rahiye, kartavya karte rahiye aur prasanna rahiye. - प्रज्ञा सुभाषित

har waqt har sthiti me muskurate rahiye, nirbhay rahiye, kartavya karte rahiye aur prasanna rahiye. | हर वक्त, हर स्थिति मेंं मुस्कराते रहिये, निर्भय रहिये, कर्तव्य करते रहिये और प्रसन्न रहिये।