बड़प्पन बड़े आदमियों के संपर्क से नहीं, अपने गुण, कर्म और स्वभाव की निर्मलता से मिला करता है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

बड़प्पन बड़े आदमियों के संपर्क से नहीं, अपने गुण, कर्म और स्वभाव की निर्मलता से मिला करता है। : Badappan bade aadmiyo ke sampark se nahi, apne gun karma aur swabhav ki nirmalta se mila karta hai. - प्रज्ञा सुभाषितबड़प्पन बड़े आदमियों के संपर्क से नहीं, अपने गुण, कर्म और स्वभाव की निर्मलता से मिला करता है। : Badappan bade aadmiyo ke sampark se nahi, apne gun karma aur swabhav ki nirmalta se mila karta hai. - प्रज्ञा सुभाषित

badappan bade aadmiyo ke sampark se nahi, apne gun karma aur swabhav ki nirmalta se mila karta hai. | बड़प्पन बड़े आदमियों के संपर्क से नहीं, अपने गुण, कर्म और स्वभाव की निर्मलता से मिला करता है।