“दूसरों को सुनो ; फिर भी मत सुनो . अगर तुम्हारा दिमाग उनकी समस्याओं में उलझ जाएगा, ना सिर्फ वो दुखी होंगे , बल्कि तुम भी दुखी हो जओगे|”

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

“दूसरों को सुनो ; फिर भी मत सुनो . अगर तुम्हारा दिमाग उनकी समस्याओं में उलझ जाएगा, ना सिर्फ वो दुखी होंगे , बल्कि तुम भी दुखी हो जओगे|” : Doosro ki suno, fir bhi mat suno, agar tumhara dimaag unki samasyaon me ulajh jaayega. na sirf wo dukhi honge balkitum bhi dukhi ho jaaoge. - श्री श्री रविशंकर“दूसरों को सुनो ; फिर भी मत सुनो . अगर तुम्हारा दिमाग उनकी समस्याओं में उलझ जाएगा, ना सिर्फ वो दुखी होंगे , बल्कि तुम भी दुखी हो जओगे|” : Doosro ki suno, fir bhi mat suno, agar tumhara dimaag unki samasyaon me ulajh jaayega. na sirf wo dukhi honge balkitum bhi dukhi ho jaaoge. - श्री श्री रविशंकर

Leave A Reply

Your email address will not be published.