धर्म मनुष्य के लिए बना है न कि मनुष्य धर्म के लिए।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

धर्म मनुष्य के लिए बना है न कि मनुष्य धर्म के लिए। : Dharm manushy ke lie bana hai na ki manushy dharm ke lie. - डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकरधर्म मनुष्य के लिए बना है न कि मनुष्य धर्म के लिए। : Dharm manushy ke lie bana hai na ki manushy dharm ke lie. - डॉ॰ बी॰ आर॰ अम्बेडकर

dharm manushy ke lie bana hai na ki manushy dharm ke lie. | धर्म मनुष्य के लिए बना है न कि मनुष्य धर्म के लिए।