खजाने को चोरों से नहीं पहरेदारों से धोखा है। देश को सिर्फ दुश्मनों से ही नहीं बल्कि इन गद्दारों से धोखा है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

खजाने को चोरों से नहीं पहरेदारों से धोखा है। देश को सिर्फ दुश्मनों से ही नहीं बल्कि इन गद्दारों से धोखा है। : Khajane ko choro se nahi paharedaron se dhokha hai, desh ko sirf dushmano se nahi in gaddaro se dhokha hai. - अन्ना हजारेखजाने को चोरों से नहीं पहरेदारों से धोखा है। देश को सिर्फ दुश्मनों से ही नहीं बल्कि इन गद्दारों से धोखा है। : Khajane ko choro se nahi paharedaron se dhokha hai, desh ko sirf dushmano se nahi in gaddaro se dhokha hai. - अन्ना हजारे

khajane ko choro se nahi paharedaron se dhokha hai, desh ko sirf dushmano se nahi in gaddaro se dhokha hai. | खजाने को चोरों से नहीं पहरेदारों से धोखा है। देश को सिर्फ दुश्मनों से ही नहीं बल्कि इन गद्दारों से धोखा है।