ध्यान दीजिये कि सबसे कठोर पेड़ सबसे आसानी से टूट जाते हैं, जबकि, बांस या विलो हवा के साथ मुड़कर बच जाते है - dhyan deejiye ki sabse kathor ped sabse aasani se toot jate hain, jabki baans ya willow hawaa ke sath mudkar bach jaate hain . : ब्रूस ली

ध्यान दीजिये कि सबसे कठोर पेड़ सबसे आसानी से टूट जाते हैं, जबकि, बांस या विलो हवा के साथ मुड़कर बच जाते है। : Dhyan deejiye ki sabse kathor ped sabse aasani se toot jate hain, jabki baans ya willow hawaa ke sath mudkar bach jaate hain . - ब्रूस ली

जब मैं अपनी गलती के बारे में सोचता हूँ या उसे फिर से देखता हूँ तो शर्मिंदगी महसूस होती है। मुझे लगता है कि मैं एक बेकार अभिनेता हूँ - jab main apni galati ke baare mein sochata hoon yaa use phir se dekhta hoon to sharmindag mahasoos hoti hai. mujhe lagta hai ki main ek bekaar abhineta hoon. : अमिताभ बच्चन

जब मैं अपनी गलती के बारे में सोचता हूँ या उसे फिर से देखता हूँ तो शर्मिंदगी महसूस होती है। मुझे लगता है कि मैं एक बेकार अभिनेता हूँ। : Jab main apni galati ke baare mein sochata hoon yaa use phir se dekhta hoon to sharmindag mahasoos hoti hai. mujhe lagta hai ki main ek bekaar abhineta hoon. - अमिताभ बच्चन

इन्सान का अपने दुश्मन से इन्तकाम का सबसे अच्छा तरीका ये है कि वो अपनी खूबियों में इज़ाफा कर दे !! - insaan ka apne dushman se intakaam ka sabse achchha tarika ye hai ki vo apani khoobiyon mein izaapha kar de. : हजरत अली

इन्सान का अपने दुश्मन से इन्तकाम का सबसे अच्छा तरीका ये है कि वो अपनी खूबियों में इज़ाफा कर दे !! : Insaan ka apne dushman se intakaam ka sabse achchha tarika ye hai ki vo apani khoobiyon mein izaapha kar de. - हजरत अली