मांसाहार मानवता को त्यागकर ही किया जा सकता है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

मांसाहार मानवता को त्यागकर ही किया जा सकता है। : Maansahaar manavta ko tyaagkar hi kiya jaa sakta hai. - प्रज्ञा सुभाषितमांसाहार मानवता को त्यागकर ही किया जा सकता है। : Maansahaar manavta ko tyaagkar hi kiya jaa sakta hai. - प्रज्ञा सुभाषित

maansahaar manavta ko tyaagkar hi kiya jaa sakta hai. | मांसाहार मानवता को त्यागकर ही किया जा सकता है।