उस मनुष्य को कौन अपने पास बिठाना चाहेगा, जो हमेशा बारूद का ढेर बना घूमता है, और जिसका पता नहीं कि वह कब फट पड़े।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

उस मनुष्य को कौन अपने पास बिठाना चाहेगा, जो हमेशा बारूद का ढेर बना घूमता है, और जिसका पता नहीं कि वह कब फट पड़े। : Us manushya ke paas kaun baithna chahega, us manushya ko kaun apne paas bithana chahega, jo hamesha barood ka dher bana rahta hai, jiska pata nahi kab phoot pade. - जेम्स एलनउस मनुष्य को कौन अपने पास बिठाना चाहेगा, जो हमेशा बारूद का ढेर बना घूमता है, और जिसका पता नहीं कि वह कब फट पड़े। : Us manushya ke paas kaun baithna chahega, us manushya ko kaun apne paas bithana chahega, jo hamesha barood ka dher bana rahta hai, jiska pata nahi kab phoot pade. - जेम्स एलन

us manushya ke paas kaun baithna chahega, us manushya ko kaun apne paas bithana chahega, jo hamesha barood ka dher bana rahta hai, jiska pata nahi kab phoot pade. | उस मनुष्य को कौन अपने पास बिठाना चाहेगा, जो हमेशा बारूद का ढेर बना घूमता है, और जिसका पता नहीं कि वह कब फट पड़े।