मनुष्य अपनी सबसे अच्छे रूप में सभी जीवों में सबसे उदार होता है, लेकिन यदि कानून और न्याय न हो तो वो सबसे खराब बन जाता है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

मनुष्य अपनी सबसे अच्छे रूप में सभी जीवों में सबसे उदार होता है, लेकिन यदि कानून और न्याय न हो तो वो सबसे खराब बन जाता है। : Manushya apne achche roop me jeevo me sabse udaar hota hai, lekin yadi kanoon aur nyay n ho to fir wo sabse kharab ban jata hai. - अरस्तुमनुष्य अपनी सबसे अच्छे रूप में सभी जीवों में सबसे उदार होता है, लेकिन यदि कानून और न्याय न हो तो वो सबसे खराब बन जाता है। : Manushya apne achche roop me jeevo me sabse udaar hota hai, lekin yadi kanoon aur nyay n ho to fir wo sabse kharab ban jata hai. - अरस्तु

manushya apne achche roop me jeevo me sabse udaar hota hai, lekin yadi kanoon aur nyay n ho to fir wo sabse kharab ban jata hai. | मनुष्य अपनी सबसे अच्छे रूप में सभी जीवों में सबसे उदार होता है, लेकिन यदि कानून और न्याय न हो तो वो सबसे खराब बन जाता है।