क्या तुम ज़िन्दगी से ऊब चुके हो? तो फिर खुद को किसी ऐसे काम में झोंक दो जिसमे दिल से यकीन रखते हो, उसके लिए जियो, उसके लिए मरो, और तुम वो ख़ुशी पा लोगे जो तुम्हे लगता था की कभी तुम्हारी नहीं हो सकती.

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

क्या तुम ज़िन्दगी से ऊब चुके हो? तो फिर खुद को किसी ऐसे काम में झोंक दो जिसमे दिल से यकीन रखते हो, उसके लिए जियो, उसके लिए मरो, और तुम वो ख़ुशी पा लोगे जो तुम्हे लगता था की कभी तुम्हारी नहीं हो सकती. : Kya tum zindgi se oob chuke ho. to fir khud ko kisi ese kaam me jhonk do jise tum dil se chahte ho aur tum wo khushi paa loge jo tum sochte the ki tumhari kabhi nahi ho sakti - डेल कार्नेगीक्या तुम ज़िन्दगी से ऊब चुके हो? तो फिर खुद को किसी ऐसे काम में झोंक दो जिसमे दिल से यकीन रखते हो, उसके लिए जियो, उसके लिए मरो, और तुम वो ख़ुशी पा लोगे जो तुम्हे लगता था की कभी तुम्हारी नहीं हो सकती. : Kya tum zindgi se oob chuke ho. to fir khud ko kisi ese kaam me jhonk do jise tum dil se chahte ho aur tum wo khushi paa loge jo tum sochte the ki tumhari kabhi nahi ho sakti - डेल कार्नेगी

kya tum zindgi se oob chuke ho. to fir khud ko kisi ese kaam me jhonk do jise tum dil se chahte ho aur tum wo khushi paa loge jo tum sochte the ki tumhari kabhi nahi ho sakti | क्या तुम ज़िन्दगी से ऊब चुके हो? तो फिर खुद को किसी ऐसे काम में झोंक दो जिसमे दिल से यकीन रखते हो, उसके लिए जियो, उसके लिए मरो, और तुम वो ख़ुशी पा लोगे जो तुम्हे लगता था की कभी तुम्हारी नहीं हो सकती.