किसी आदर्श के लिए हँसते-हँसते जीवन का उत्सर्ग कर देना सबसे बड़ी बहादुरी है।

इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

किसी आदर्श के लिए हँसते-हँसते जीवन का उत्सर्ग कर देना सबसे बड़ी बहादुरी है। : Kisi aadarsh ke liye hanste hanste jeevan ka utsarg kar dena sabse badi bahaduri hai. - प्रज्ञा सुभाषितकिसी आदर्श के लिए हँसते-हँसते जीवन का उत्सर्ग कर देना सबसे बड़ी बहादुरी है। : Kisi aadarsh ke liye hanste hanste jeevan ka utsarg kar dena sabse badi bahaduri hai. - प्रज्ञा सुभाषित

kisi aadarsh ke liye hanste hanste jeevan ka utsarg kar dena sabse badi bahaduri hai. | किसी आदर्श के लिए हँसते-हँसते जीवन का उत्सर्ग कर देना सबसे बड़ी बहादुरी है।