खुशी ही जीवन का अर्थ और उद्देश्य है, और मानव अस्तित्व का लक्ष्य और मनोरथ।

रचनाकार :
इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

खुशी ही जीवन का अर्थ और उद्देश्य है, और मानव अस्तित्व का लक्ष्य और मनोरथ। : Khushi hi jeevan ka arth aur uddeshya hai aur manav astitva ka lakshaya aur manorath. - अरस्तुखुशी ही जीवन का अर्थ और उद्देश्य है, और मानव अस्तित्व का लक्ष्य और मनोरथ। : Khushi hi jeevan ka arth aur uddeshya hai aur manav astitva ka lakshaya aur manorath. - अरस्तु

Leave A Reply

Your email address will not be published.