वेश्याएं निर्धनों के साथ नहीं रहतीं, नागरिक दुर्बलों की संगती में नहीं रहते, और पक्षी उस पेड़ पर घोंसला नहीं बनाते जिसपे फल ना हों।

रचनाकार :
इमेज का डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया है

वेश्याएं निर्धनों के साथ नहीं रहतीं, नागरिक दुर्बलों की संगती में नहीं रहते, और पक्षी उस पेड़ पर घोंसला नहीं बनाते जिसपे फल ना हों। : Vaishyaye nirdhano ke sath nahi rehti, nagrik durbalo ki sangati me nhi rahte aur pakshi us ped par ghosla nahi banate jis par fal na ho - चाणक्यवेश्याएं निर्धनों के साथ नहीं रहतीं, नागरिक दुर्बलों की संगती में नहीं रहते, और पक्षी उस पेड़ पर घोंसला नहीं बनाते जिसपे फल ना हों। : Vaishyaye nirdhano ke sath nahi rehti, nagrik durbalo ki sangati me nhi rahte aur pakshi us ped par ghosla nahi banate jis par fal na ho - चाणक्य
jj वेश्याएं निर्धनों के साथ नहीं रहतीं, नागरिक दुर्बलों की संगती में नहीं रहते, और पक्षी उस पेड़ पर घोंसला नहीं बनाते जिसपे फल ना हों। : Vaishyaye nirdhano ke sath nahi rehti, nagrik durbalo ki sangati me nhi rahte aur pakshi us ped par ghosla nahi banate jis par fal na ho - Desktop

Leave A Reply

Your email address will not be published.